fbpx class="post-template-default single single-post postid-781 single-format-standard custom-background wp-embed-responsive single-post-right-sidebar single-post-single fullwidth-layout columns-3 group-blog">
You are here
Home > हिंदी > इन 5 तरीकों से अपने लंग्स को रखें हैल्दी वरना हो सकते हैं कोरोना सहित कई बीमारियों का शिकार

इन 5 तरीकों से अपने लंग्स को रखें हैल्दी वरना हो सकते हैं कोरोना सहित कई बीमारियों का शिकार

हेल्दी लंग्स

इस बात को समझाने की जरूरत नहीं कि हेल्दी लंग्स आपके शरीर के कितने महत्‍वूपर्ण अंग हैं। लेकिन इनको हैल्‍दी रखना क्‍यों जरूरी है इस बात का अंदाजा आप कोरोनवायरस से हुई मौत के आकड़ों को देखकर लगा सकते है। जी हां फेफडो को लेकर थोड़ी लापरवाही की कीमत आपकी जान से भी ज्‍यादा हो सकती है।

लेकिन इनको स्‍वस्‍थ रखना इतना भी कठिन नहीं जितना आपको लगता है यहां हम बात करने वाले हैं शरीर के सबसे महत्‍वपूर्ण आंतरिंग अंग फेफ़डो को स्‍वस्‍थ रखने के कुछ आसान तरीकों के बारे में। इन आसान तरीकों को अपनाकर आप अपने शरीर को स्‍वस्‍थ और निरोग बना सकते हैं।

लंग्‍स को स्‍वस्‍थ रखने के तरीके

1. सिगरेट से करें अलविदा

धूम्रपान

सिगरेट का धूम्रपान फेफड़ों के कैंसर और क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) का प्रमुख कारण है, जिसमें क्रोनिक ब्रोंकाइटिस जैसी गंभीर बीमारिया शामिल हैं।

सिगरेट का धुआं वायु मार्ग को संकीर्ण कर सकता है और सांस लेने को अधिक कठिन बना सकता है। यह पुरानी सूजन, या फेफड़ों में सूजन का कारण बनता है, जिससे क्रोनिक ब्रोंकाइटिस हो सकता है। समय के साथ सिगरेट का धुआं फेफड़े के ऊतकों को नष्ट कर देता है और कैंसर में होने वाले परिवर्तनों को ट्रिगर कर सकता है। यदि आप धूम्रपान करते हैं, इसे तुरंत बंद करें। इसे छोड़ने से लाभ होने में कभी देर नहीं होती।

2. इनडोर प्रदूषकों से बचें 

इनडोर प्रदूषकों से बचें

सिगरेट के धुएं के अलावा भी कई प्रकार का धुआं, घर और कार्यस्थल में रसायन, और रेडॉन सभी फेफड़ों की बीमारी का कारण बन सकते हैं। अपने घर और कार को स्मोके फ्री बनाएं। खराब हवा के दिनों में बाहर व्यायाम करने से बचें। साथ ही आपके घर के आस पास अगर कोई फैक्‍ट्री है वहां से अपने आवास की दूरी बनाएं।

3. एक्‍सरसाइज

एक्‍सरसाइज

चाहे आप युवा हों या बूढ़े, दुबले-पतले या बड़े, सक्षम शरीर वाले या किसी पुरानी बीमारी या विकलांगता के साथ रहने वाले, शारीरिक रूप से सक्रिय रहने से आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखने में मदद मिल सकती है। रोजान स्‍वस्‍थ हाव में 30 मिनिट के लिए वॉकिंग या 15 मिनिट की रनिंग आपके हेल्दी लंग्स रखने में मदद कर सकती है।

4. खाने का ध्‍यान रखें

खाने का ध्‍यान रखें

सिर्फ धुआं ही नहीं है जो आपके लंग्‍स को खराब कर सकता है बल्कि खराब खाना भी जैस सॉफ्ट ड्रिंग्‍स, और फास्‍ट फूड भी आपके हेल्दी लंग्स पर असर डालते हैं तो इनसे बचें और अपने आहार मे हरी सब्जियां शामिल करें। याद रखें ताजा और स्‍वस्‍थ खाना ही एक अच्‍छे स्‍वास्‍थ्य की निशानी है।

यह भी जरूर पढ़ें-Benefits of eggs: सिर्फ प्रोटीन ही नहीं अंडे के ये वाकी पोषक तत्व शरीर के लिए है वरदान!

5. कीटाणुओं से बचें

कीटाणुओं से बचें

खांसी और छींक को कवर करना एक अच्‍छा काम है। कोहनी का एक अच्छी तरह से उपयोग किसी भी प्रकार के वायरस के प्रसार को रोक सकता है जो फ्लू, सामान्य सर्दी और अधिक गंभीर श्वसन बीमारियों का कारण बनता है। निमोनिया अक्सर एक श्वसन संक्रमण की जटिलता के रूप में विकसित होता है।

फेफड़ों के संक्रमण का कारण बनने वाले कीटाणुओं के प्रसार को रोकने के लिए अन्य रणनीतियों में श्वसन संक्रमण होने पर दूसरों के साथ निकट संपर्क में रहने या उनके संपर्क में आने से बचना शामिल है।

किसी को भी निमोनिया हो सकता है, लेकिन बड़े वयस्क, बच्चे और अस्थमा और सीओपीडी जैसी पुरानी बीमारियों वाले लोग विशेष रूप से कमजोर होते हैं। इसलिए लोगों से हमेशा दूरी बनाए रखें और याद रखें समय समय पर हाथ थोना आपको कई कीटाणुओं से बचा सकता है जो आपके फेफड़ो को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

सच्चाई यह है कि हमारे शरीर के बाकी हिस्सों की तरह, हमारे फेफड़ों को दैनिक देखभाल और ध्यान की आवश्यकता होती है। श्वास शरीर के प्रत्येक कोशिका को ऑक्सीजन खिलाती है। पर्याप्त ऑक्सीजन के बिना, लोग सांस की बीमारियों, पुरानी प्रतिरोधी फेफड़े की बीमारी और यहां तक कि हृदय रोग सहित स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर सकते हैं तो इन स्‍वस्‍थ तरीकों को अपनाकर अपने हेल्दी लंग्स रखें और फेफड़ों की सभी बीमारियों को अलविदा करें।

यह भी जरूर पढ़ें-मुँहासों से हमेशा के लिए छुटकारा दिलाऐगें ये 5 घरेलू उपचार

Leave a Reply

Top