fbpx class="post-template-default single single-post postid-310 single-format-standard custom-background wp-embed-responsive single-post-right-sidebar single-post-single fullwidth-layout columns-3 group-blog">
You are here
Home > हिंदी > सेक्सुअल स्वास्‍थ्‍य > क्या हस्तमैथुन शरीर के लिए हानिकारक है ? यहां जाने हस्तमैथुन पर डॉक्टरर्स की राय

क्या हस्तमैथुन शरीर के लिए हानिकारक है ? यहां जाने हस्तमैथुन पर डॉक्टरर्स की राय

क्या हस्तमैथुन शरीर के लिए हानिकारक है ? यहां जाने हस्तमैथुन पर डॉक्टरर्स की राय

चाहे पुरूष हो या महिलाएं सभी के मन में हस्‍तमैथुन को लेकर कई सवाल होते हैं, जैसे क्‍या हस्‍तमैथुन शरीर के लिए बुरा है, क्‍या हस्‍तमैथुन करने से शरीर कमजोर होता है आदि। अगर आप भी ऐसे ही किसी सवाल का जबाव ढूंढ रहे हैं तो यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़े। यहां हम बताऐगें कि हस्‍तमैथुन के आपके शरीर पर क्‍या प्रभाव पड़ते हैं और इस पर डॉक्‍टर्स क्‍या कहते हैं।

हस्‍तमैथुन

यह एक बहुत ही सामान्य सिंगल सेक्‍स प्रक्रिया है जिसमें एक व्‍यक्ति अकेले संभोग का अनुभव करता है।  एक राष्ट्रीय अध्ययन में, 95% पुरुषों और 89% महिलाओं ने बताया कि उन्होंने हस्तमैथुन किया है। हस्तमैथुन सबसे अधिक पुरुषों और महिलाओं द्वारा अनुभव किया गया पहला यौन कार्य है।

जानिए क्‍या है हस्‍तमैथुन पर डॉक्‍टर्स की राय?

जानिए क्‍या है हस्‍तमैथुन पर डॉक्‍टर्स की राय?

हस्‍तमैथुन को लेकर लोगों कें मन में कई गलत धारणाएं और सवाल है लेकिन डाक्‍टर्स की माने तो हस्‍तमैथुन का शरीर पर कोई भी नकारात्‍मक प्रभाव नहीं पड़ता। चाहे आप महिला हों या पुरूष यह पूरी तरह से ठीक है और यह आपके शरीर को भी किसी तरह से नुकसान नहीं पहुंचाता है।

लेकिन फिर भी कई लोग हस्‍तमैथुन करते हुए विकृति और एक मानसिक समस्या के शिकार हो सकते हैं हस्‍तमैथुन करते हुए कई लोगों के मन में यह विचार आता है कि वह कुछ गलत कर रहे हैं और इस कारण वह ग्लानि के चलते अपने आप को दुखी और परेशान कर बैठते हैं।

जबकि डाक्‍टर्स की राय में हस्तमैथुन को एक सामान्य, स्वस्थ यौन गतिविधि के रूप में माना जाता है जो सुखद, और सुरक्षित है। यह यौन सुख का अनुभव करने का एक अच्छा तरीका है और इसे जीवन भर किया जा सकता है।

हस्‍तमैथुन से जुड़े कुछ सवाल

हस्‍तमैथुन से जुड़े कुछ सवाल

यहां हस्‍तमैथुन से जुड़े कुछ सवालों के जबाव हैं जो अक्‍सर लोगों द्वारा पूछे जाते है।

1. क्‍या हस्‍तमैथुन करने से कमजोरी आती है?

सेक्‍स विशेषज्ञ की माने तो हस्‍तमैथुन से शरीर में कमजोरी नहीं आती लेकिन कुछ मामलों लोग पोर्न के आदि पाएं गए हैं जो उनके शरीर के लिए नुकसान दायक था, इसके पीछे की वजह उनका खान पान और जीवन शैली थी। अगर आप अपने शरीर का ध्‍यान नहीं रखते और आप पोर्न के आदि हो चुके हैं तो हस्‍तमैथुन आपके शरीर को प्रभावति कर सकती है।

2. क्‍या हस्‍तमैथुन करने से वीर्य मे कमी आती है?

डाक्‍टर्स बताते हैं कि वीर्य की कमी लिंग के सिकुडने या पतला होने के कारण होती है। जोकि गलत तरीके से किए गए हस्‍तमैथुन परिणाम हैं लेकिन अगर आप ठीक तरीके से हस्‍तमैथुन करते हैं तो इससे आपके वीर्य में कोई कमी नहीं आती।

3. क्‍या हस्‍तमैथुन से दिमाग कमजोर होता है?

यह एक और आम धारणा है जो अक्‍सर लोगों के मन में होती है लेकिन यौन विशेषज्ञ और डॉक्‍टर्स की माने तो हस्‍तमैथुन का दिमाग की कमजोरी से कोई लेना देना नहीं है।

4. क्‍या हस्‍तमैथुन से चेहरे पर पिंपल होते हैं?

हस्तमैथुन के बारे में बहुत सारे मिथक और गलत धारणाएं हैं, जिनमें कुछ लोग हस्‍तमैथुन को त्‍वचा समस्‍याओं के लिए जिम्‍मेदार मानते हैं। कुछ लोग मानते हैं कि हस्तमैथुन करने से चेहरे पर मुहांसो का प्रकोप हो सकता है, लेकिन यह सच नहीं है। डाक्‍टर्स की राय में हस्तमैथुन मुंहासों का कारण नहीं है।

5. क्‍या हस्‍तमैथुन करने से आखों की रोशनी में कमी में आती है?

हस्तमैथुन आत्म संतुष्टि का एक तरीका है और यह किसी भी तरह से दृष्टि से नहीं जुड़ा है। यदि आपकी दृष्टि कमजोर है तो इसके और भी कई कारण हो सकते हैं जैसे लंबे समय तक मोबाइल या टीवी के सामने समय बिताना।

हस्‍तमैथुन की स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

हस्‍तमैथुन की स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

इसके कई लाभ, मिथक, और दुष्प्रभाव और भी सामने आते हैं। यहां हस्‍तमैथुन के कुछ स्‍वास्‍थ्‍य लाभ बताए गए हैं।

  • तनाव को कम करने में मदद

हस्‍तमैथुन आपके तनाव को कम करने में मदद करती है।  इससे आपके शरीर में  एंडोर्फिन, ऑक्सीटोसिन हार्मोन निकलते हैं जो आपके डोपामाइन को खुश करते हैं और यही कारण है कि हस्‍तमैथुन के बाद आप तनाव को महसूस नहीं करते।

  • नींद को बेहतर करने में मदद

यह बात तो हम सभी जानते हैं कि एक स्‍वस्‍थ शरीर के लिए हर इंसान के लिए 7 से 8 घंटे की नींद जरूरी होती है। लेकिन तनाव के चलते भरपूर नींद ले पाना संभव नहीं हो पाता लेकिन यौन विशेषज्ञों की माने तो हस्‍तमैथुन करने वाले लोगों में नींद लेने की क्षमता अधिक होती है।

  • एकाग्रता में वृध्दि

यह न केवल आपको अच्छा महसूस कराता है बल्कि आपके फोकस और एकाग्रता को भी बेहतर बनाता है। एंडोर्फिन हार्मोन आपके एकाग्रता में में वृध्दि करता है जोकि हस्‍तमैथुन करते हुए रिलीज़ होता है।

Read also – Pyaz kaise karta hai balo ko jhadne se rokne me madad

हस्‍तमैथुन के साइड इफेक्‍टस

हस्‍तमैथुन के साइड इफेक्‍टस

डॉक्‍टर्स की राय में तो हस्‍तमैथुन के कोई भी साइड इफेक्‍टस नहीं है लेकिन कुछ कुछ लोग अक्सर हस्तमैथुन करते हैं – हर दिन, या दिन में एक से अधिक बार। कुछ लोग सप्ताह में एक बार, या कुछ लोग कभी भी हस्तमैथुन नहीं करते हैं।

अगर आप हस्‍तमैथुन बहुत अधिक बार करते हैं तो यह आपकी नौकरी, आपकी जिम्मेदारियों या आपके सामाजिक जीवन के रास्ते में खलल डाल सकता है। और यदि इसके आदि हो चुके हैं तो यह आपके लिए एक समस्या है, इसके लिए आप किसी परामर्शदाता या चिकित्सक से बात कर सकते हैं।

कुछ लोग जब वह युवा होते हैं तो उन्‍हें लगता है कि हस्तमैथुन करना गलत या बुरा है, इसलिए वे ऐसा करने के लिए दोषी महसूस करते हैं। यदि आप ऐसा महसूस करते हैं, तो याद रखने की कोशिश करें कि ज्यादातर लोग हस्तमैथुन करते हैं। यह पूरी तरह से सामान्य है, और इसमें कुछ भी गलत नहीं है। अगर आप अपने आप को दोषा मानते हैं तो आप किसी काउंसलर या थेरेपिस्ट से बात करके इस भ्रम को दूर कर सकते हैं।

Read More – जानिए क्यों होता है शीघ्रपतन या शीघ्रस्खकलन और कैसे करें इसका उपचार

हस्‍तमैथुन के बारे में याद रखने योग्‍य बात

हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य प्रकिया है जिसे के दुनिया लगभग सभी लोग अपने जीवन में कभी न कभी करते हैं, अगर आप हस्‍तमैथुन के बाद शर्म या ग्लानि महसूस करते हैं तो आप गलत हैं। इसके कई शारीरिक और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं, लेकिन याद रहे आप इसे एक लत न बनाएं अगर आप हस्‍तमैथुन को एक लत बना लेते हैं तो यह आपके मानिसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बुरी भी हो सकती है।

Leave a Reply

Top