fbpx class="post-template-default single single-post postid-1889 single-format-standard custom-background wp-embed-responsive single-post-right-sidebar single-post-single fullwidth-layout columns-3 group-blog">
You are here
Home > हिंदी > Migraine Home Remedies: माइग्रेन के घरेलू उपचार

Migraine Home Remedies: माइग्रेन के घरेलू उपचार

माइग्रेन के घरेलू उपचार, migraine relief tips

माइग्रेन के घरेलू उपचार:  एक माइग्रेन (migraine relief tips) एक सिरदर्द है जो आमतौर पर सिर के एक तरफ धड़कते दर्द का अहसास कराता है। सिददर्द के अलावा इसे में रोगी मतली, उल्टी, और प्रकाश और ध्वनि के प्रति अत्यधिक संवेदनशीलता महसूस करता है। आकडों की माने वर्तमान लगभग 23 प्रतिशत लोग माइग्रेन की समस्‍या का सामना कर रहे हैं।

माइग्रेन (migraine relief tips) के पीछे का कारण कया होता है इसके बारे में अभी सही शोध सामने नहीं आए हैं, लेकिन उन्हें असामान्य मस्तिष्क गतिविधि का परिणाम माना जाता है जो अस्थायी रूप से मस्तिष्क में तंत्रिका संकेतों, रसायनों और रक्त वाहिकाओं को प्रभावित करता है।

हालांकि माइग्रेन का इलाज संभव हैं डॉक्‍टर की सलाह से असानी से माइग्रेन के दर्द से राहत पायी जा सकती है इसके अलावा अच्छी खबर यह है कि डॉक्टर के पास जाने के बिना भी माइग्रेन के दर्द को कम करने के लिए आप कई सरल चीजें कर सकते हैं। नीचें दी गईं इन युक्तियों (माइग्रेन के घरेलू उपचार) को आजमाएं और माइग्रेन के दर्द को कम करें।

Migraine Home Remedies: माइग्रेन के घरेलू उपचार | Migraine relief tips in hindi

माइग्रेन के घरेलू उपचार

1. पेपरमिंट ऑयल लगाएं

2010 के एक अध्ययन के अनुसार, पेपरमिंट ऑयल में मेन्थॉल माइग्रेन (migraine relief tips) के दर्द को कम कर सकता है। अध्ययन में पाया गया कि माथे मेन्थॉल ऑयल लगाना माइग्रेन से जुड़े दर्द, मतली और हल्की संवेदनशीलता के लिए अधिक प्रभावी था। इसके अलावा लैवेंडर का ऑयल भी माइग्रेन पर असरदाय पाया गया है आप इसका भी उपयोग कर सकते हैं।

3. कैफीन

कैफीन कॉफी और चाय में पाया जाना वाला एक घटक है, और यह आपको माइग्रेनथोड़ी राहत दे सकता है। माइग्रेन (migraine relief tips) में आपको एक कप कडक चाया या कॉफी ट्राई करनी चाहिए है यह आपको काफी हद तक आराम दिला सकती है। यह एसिटामिनोफेन जैसे ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक बेहतर काम करने में भी मदद कर सकता है। बस बहुत अधिक न पिएं क्योंकि कैफीन की निकासी अपने ही प्रकार के सिरदर्द का कारण बन सकती है।

3. अदरक का उपयोग (migraine relief tips)

हाल के एक छोटे से अध्ययन में पाया गया कि अदरक में ऐसे कुछ होते हैं जो माइग्रेन से राहत दिला सकता है। माइग्रेन से राहत पाने के लिए आप अदरक चाय का उपयोग कर सकते हैं।

4. एक अंधेरा, शांत कमरा

तेज रोशनी और तेज आवाज आपके सिरदर्द को और भी खराब कर सकती है। तो आवाज और शोर से दूर एक जगह खोजें और अंधेरे कमरे में शांत जगह पर कुछ देर आराम करें यह आपके सिर दर्द को ठीक होने में तेजी लाने में मदद कर सकता है।

5. मालिश करें

आपके द्वारा इसे स्वयं ही किया जा सकता है। कुछ मिनटों के लिए अपने माथे, गर्दन और मंदिरों की मालिश करने से तनाव के कारण होने वाले तनाव सिरदर्द को कम करने में मदद मिल सकती है।

Read also – Benefits of eggs: सिर्फ प्रोटीन ही नहीं अंडे के ये वाकी पोषक तत्व शरीर के लिए है वरदान!

माइग्रेन को बढ़ाने वाली चीजें

माइग्रेन को बढ़ाने वाली चीजें

माइग्रेन (migraine relief tips) के घरेलू उपचार के अलावा जिन लोगों को माइग्रेन होता है वे उन ट्रिगर्स की पहचान करने में सक्षम हो सकते हैं जो लक्षणों को दूर करते हैं। कुछ संभावित ट्रिगर में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • तनाव और अन्य भावनाएं
  • थकान और किसी के सोने के तरीके में बदलाव
  • चकाचौंध या टिमटिमाती रोशनी
  • मौसमी परिवर्तन
  • कुछ खाद्य पदार्थ और पेय

माइग्रेन (migraine relief tips) के बारे में कुछ महत्‍वपूर्ण बातें

माइग्रेन के बारे में पुराने सिद्धांतों ने सुझाव दिया कि लक्षण संभवतः मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह में उतार-चढ़ाव के कारण होते हैं। अब कई सिरदर्द शोधकर्ताओं ने महसूस किया है कि रक्त प्रवाह और रक्त वाहिकाओं में परिवर्तन दर्द शुरू नहीं करते हैं, लेकिन इसमें योगदान दे सकते हैं।

माइग्रेन दर्द सिद्धांत का एक पहलू बताता है कि उत्तेजनात्मक मस्तिष्क कोशिकाओं के समूहों द्वारा गतिविधि की तरंगों के कारण माइग्रेन का दर्द होता है। ये रक्त वाहिकाओं को संकीर्ण करने के लिए सेरोटोनिन जैसे रसायनों को ट्रिगर करते हैं। सेरोटोनिन तंत्रिका कोशिकाओं के बीच संचार के लिए आवश्यक एक रसायन है। यह पूरे शरीर में रक्त वाहिकाओं के संकुचन का कारण बन सकता है।

माइग्रेन के बारे में पूछे गए सवाल

माइग्रेन होने के क्‍या कारण हैं ?

माइग्रेन का कोई निश्चित कारण नहीं है कि माइग्रेन क्यों होता है, महिलाओं में माइग्रेन बहुत अधिक आम है, जो बताता है कि एस्ट्रोजन जैसे हार्मोन एक भूमिका निभा सकते हैं। एक आनुवंशिक लिंक भी आपके जोखिम को बढ़ा सकता है, क्योंकि माइग्रेन (migraine relief tips) परिवारों में चलता है। शोधकर्ता माइग्रेन के मूल कारण की खोज जारी रखे हैं।

क्‍या माइग्रेन गंभीर समस्‍या है ?

कुछ मामलों में माइग्रेन (migraine relief tips) सामान्‍य है लेकिन लगातार माइग्रेन दुर्बल करने वाला हो सकता है, कुछ लोगों के लिए जो अपने सिरदर्द के साथ और मस्तिष्‍क बीमारियों का का अनुभव करते हैं, वे अधिक गंभीर खतरे के लिए एक मार्कर हो सकते हैं जिसमें स्ट्रोक का जोखिम भी शामिल है।

किस उम्र के लोगों केा माइग्रेन होता है ?

माइग्रेन आमतौर पर 40 साल की उम्र से पहले शुरू होता है, हालांकि यह किसी भी उम्र में हो सकता है। यहां तक कि बच्चों को भी 4 साल की उम्र में ही माइग्रेन हो सकता है। युवा महिलाओं में माइग्रेन (migraine relief tips) का सिरदर्द अधिक आम है, और माइग्रेन और हार्मोन के बीच एक बड़ा संबंध है।

क्‍या माइग्रेन के घरेलू उपचार काम के होते हैं ?

कुछ मामलों में माइग्रेन (migraine relief tips) के घरेलू उपचार काम करते हैं लकिन अगर आपको इनसे राहत नहीं मिलती है तो अपने डाक्‍टर की सलाह लें।

यह भी जरूर पढें- डायबिटीज हो या ज्वाइंट पेन लौंग दिला सकती है इन 7 बीमारियों को से राहत

Leave a Reply

Top