fbpx class="post-template-default single single-post postid-268 single-format-standard custom-background wp-embed-responsive single-post-right-sidebar single-post-single fullwidth-layout columns-3 group-blog">
You are here
Home > हिंदी > जानिए क्यों होता है शीघ्रपतन या शीघ्रस्खकलन और कैसे करें इसका उपचार

जानिए क्यों होता है शीघ्रपतन या शीघ्रस्खकलन और कैसे करें इसका उपचार

जानिए क्यों होता है शीघ्रपतन या शीघ्रस्खकलन और कैसे करें इसका उपचार

शीघ्रपतन तब होता है जब एक आदमी संभोग के दौरान जल्द ही स्खलित हो जाता है। और वह अपने साथी का संतुष्‍ट नहीं कर पाता। शीघ्रपतन एक आम यौन शिकायत है। अनुमान अलग-अलग होते हैं, लेकिन आकड़े कहते है कि 3 में से 1 पुरुष को इस समस्‍या का सामना करना पड़ता है।

जब तक यह बार-बार न है, तो चिंता का कारण नहीं है। लेकिन अगर आप इस समस्‍या का रोजाना सामना कर रहे हैं तो आपको इससे निदान पाने की आवश्‍यकता है।

शीघ्रपतन:

शीघ्रपतन:

संभोग की शुरुआत से ठीक पहले या कुछ समय पहले वीर्य का निकलना प्री मैच्यूर एजेकुलेशन कहलाता है। लोगों में शीघ्रपतन कई तरह से देखा गया है। जैसे- संभोग करते समय 1 मिनट के अंदर ही वीर्य का स्खलन या संभोग के दौरान अपने साथी से पहले स्खलन जिसके कारण व्यथित और निराश महसूस करना, और परिणामस्वरूप यौन अंतरंगता या सेक्‍स में मन न लगना।

और पढ़े – जानिए क्यों होता है शीघ्रपतन या शीघ्रस्खकलन और कैसे करें इसका उपचार

इसके कई कारण हो सकते हैं लेकिन यह एक आम यौन समस्‍या है जिसका उपचार आसानी से किया जा सकता है। मनोवैज्ञानिक और जैविक दोनों कारक शीघ्रपतन में भूमिका निभा सकते हैं। हालांकि कई पुरुषों को इसके बारे में बात करने में शर्मिंदगी महसूस होती है, लेकिन शीघ्रपतन एक सामान्य और उपचार योग्य स्थिति है। दवाएं, परामर्श और यौन तकनीकें आपमें आपके साथी के लिए सेक्स को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

शीघ्रपतन के कारण

शीघ्रपतन के कारण

शीघ्रपतन के कई कारण हो सकते हैं, इसके कारण हर इंसान के लिए अलग अगल होते हैं। लेकिन डॉक्टर कहते हैं कि शीघ्रपतन मनोवैज्ञानिक और जैविक कारकों से होता है।

मनोवैज्ञानिक कारण:

  • महिलाओं के साथ कम रिश्ते होना
  • शुरुआती यौन अनुभव
  • शरीर की खराब छवि
  • डिप्रेशन
  • शीघ्रपतन की चिंता करना

जैविक कारण या चिकित्‍सीय कारण

  • असामान्य हार्मोन का स्तर
  • मस्तिष्क रसायनों के असामान्य स्तर को न्यूरोट्रांसमीटर कहा जाता है
  • प्रोस्टेट या मूत्रमार्ग की सूजन और संक्रमण
  • डीएनए समस्‍या या खानदानी समस्‍या
  • उच्च रक्तचाप
  • अनुचित दवाओं का सेवन
  • अल्कोहल का अत्यधिक सेवन

अन्‍या कारण जो शीघ्रपतन की समस्‍या को बढ़ाते हैं:

  • नपुंसकता: जो पुरुष संभोग के दौरान स्तंभन प्राप्त करने या बनाए रखने के बारे में चिंतित हैं, वे स्खलन के लिए जल्दबाज़ी का एक पैटर्न बना सकते हैं, जिसे बदलना मुश्किल हो सकता है।
  • चिंता: शीघ्रपतन वाले कई पुरुषों में भी चिंता की समस्या होती है – या तो विशेष रूप से यौन प्रदर्शन के बारे में या अन्य मुद्दों से संबंधित।
  • रिश्ते की समस्याएं: यदि आपके अपने साथी क साथ अच्‍छे संबंध नहीं है तो जाहिर है आप स्‍खलन की ससमस्‍या का सामना कर सकते हैं।
  • और पढ़े – क्या हस्तमैथुन शरीर के लिए हानिकारक है ? यहां जाने हस्तमैथुन पर डॉक्टरर्स की राय

शीघ्रपतन के घरेलू उपचार:

शीघ्रपतन के घरेलू उपचार:

1. अश्वगंधा

यह भारतीय जड़ी बूटी पुरुषों में यौन समस्याओं के इलाज के लिए एक प्रभावी उपाय है। अश्वगंधा आपकी दिमागी शक्ति को बेहतर बनाता है और शरीर में कामेच्छा को भी बढ़ाता है। इससे पुरुष अपने स्खलन को बेहतर तरीके से नियंत्रित कर सकते हैं और संभोग को लम्बा खींच सकते हैं। जड़ी बूटी सहनशक्ति को बढ़ाती है, और यह स्तंभन दोष के इलाज में भी प्रभावी है।

2. हरा प्‍याज

हरे प्याज के बीज कामोत्तेजक होते हैं और इसलिए वे पुरुषों में शीघ्रपतन को कम करने में मदद करते हैं। ये बीज एक व्यक्ति की सहनशक्ति और ताकत को बढ़ाते हैं, इस प्रकार उसे अपनी यौन क्षमता को लम्बा करने की अनुमति देते हैं। इस उपाय का उपयोग करने के लिए, बस बीज को कुचल दें और उन्हें पानी के साथ मिलाएं। अपने भोजन से पहले दिन में 3 बार इसे पियें। सफेद प्याज आपकी यौन क्षमता को बढ़ाने और आपके प्रजनन अंगों को मजबूत करने में भी मदद कर सकता है।

3. लहसुन

लहसुन में कामोत्तेजक गुण होते हैं और यह समय से पहले स्खलन किए बिना आपके संभोग की अवधि को बढ़ाने में आपकी सहायता कर सकता है। इस एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी प्लांट के गुण आपके शरीर में रक्त परिसंचरण में सुधार करते हैं और स्‍पर्म को बढ़ाने के लिए इसे गर्म भी करते हैं। आप लहसुन की लौंग को चबा सकते हैं या उन्हें घी में भून सकते हैं और फिर हर सुबह उन्हें खाली पेट खा सकते हैं।

4. अदरक और शहद

अदरक खाने से हमारे शरीर में रक्त संचार बढ़ता है और यह विशेष रूप से शिश्न की मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है। इससे पुरुषों को स्खलन पर अधिक नियंत्रण प्राप्त होता है। अदरक इरेक्शन को बनाए रखने में भी सहायक होता है क्योंकि यह शरीर को गर्म करता है, जिससे रक्त प्रवाह तेज होता है। शहद ताकत का कामोत्तेजक है और यह अदरक की शक्ति को बढ़ा सकता है। इस उपाय का उपभोग करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आधा चम्मच अदरक को शहद के साथ मिलाकर सोने से पहले खाएं।

5. शतावरी

शीघ्रपतन से बचने के लिए इस पौधे की जड़ें बहुत फायदा करती हैं। आप पौधों की जड़ों को दूध में उबाल सकते हैं और इसे प्रतिदिन दो बार पीने से पेनाइल मांसपेशियों पर अपना नियंत्रण मजबूत हो सकता है।

6. गाजर

गाजर का उपयोग शीघ्रपतन के इलाज के लिए किया जा सकता है। गाजर में कामेच्छा में सुधार करने वाला गुण होता है जो आपके स्खलन को नियंत्रित करने में बहुत मदद करता है। सर्वोत्तम परिणामों के लिए, नियमित रूप से अंडे और शहद के साथ उबली हुई गाजर खाएं।

7. भिंडी

भिंडी का सेवन शीघ्रपतन के लिए एक प्रभावी उपाय है। आप इस सब्जी को अपने रोजमर्रा के आहार में शामिल कर सकते हैं या इसके पाउडर का सेवन कर सकते हैं। इस पाउडर का नियमित रूप से सेवन करने पर आप शीघ्रपतन से छुटकारा पा सकते हैं।

शीघ्रपतन पूरी तरह से सामान्य और सामान्य प्रकार की यौन शिकायत है जो दुनिया भर में कई लोगों को प्रभावित करती है। इन घरेलू उपचारों और प्राकृतिक उपचारों में से कोई भी आपके लक्षणों को प्रबंधित करने में आपकी मदद कर सकता है। लेकिन अगर समय से पहले स्खलन जारी रहता है, तो आपको किसी भी अंतर्निहित कारणों का पता लगाने और अन्य उपचार विकल्पों का पता लगाने के लिए अपने डॉक्टर को देखना चाहिए।

Leave a Reply

Top